पैगंबर पर टिप्पणी मामलाः नूपुर और नवीन जिंदल को जान से मारने की धमकियों के बीच मिला भगवा का समर्थन

बजरंग दल के युवा कार्यकर्ता भी गुरुवार को 10 जून को हुई हिंसा के विरोध में प्रदर्शन करेंगे और राष्ट्रपति को ज्ञापन सौंपेंगे।

पैगंबर पर टिप्पणी मामलाः नूपुर और नवीन जिंदल

पैगंबर मोहम्मद पर बीजेपी की निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा ने एक आपत्तिजनक टिप्पणी की थी, जिसके बाद मुस्लिम संगठनों ने इसका विरोध किया। कई मुस्लिम युवकों ने नूपुर शर्मा और नवीन जिंदल को जान से मारने की धमकी भी दी। अरब देशों ने भी नूपुर शर्मा की टिप्पणी पर भारत से विरोध दर्ज करवाया, जिसके बाद बीजेपी ने कार्यवाही करते हुए नूपुर शर्मा को जांच पूरी होने तक पार्टी से सस्पेंड कर दिया। वहीं नवीन जिंदल को 6 साल के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया।

लेकिन कई हिंदू संगठनों, हिंदू धर्म गुरुओं और सांसदों ने निजी रूप से नूपुर शर्मा का समर्थन किया है। बीते शनिवार को हरिद्वार में करीब 200 संतों की बैठक हुई थी, जिसमें संतों ने नूपुर शर्मा को मिल रही धमकियों पर नाराजगी जताई। संतो ने साफ कहा कि हिंदू समुदाय ऐसी धमकियों से नहीं डरेगा और नूपुर शर्मा की टिप्पणी का विरोध बहस से करना था क्योंकि नूपुर ने हदीस को कोट किया था।

बीते शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद मुस्लिम समुदाय द्वारा किए गए प्रदर्शन पर हिंदू संतो ने आपत्ति जताई और नाराजगी भी व्यक्ति की। इसके साथ ही संतो ने कहा कि नूपुर शर्मा का बयान कैसा था, इसके संबंध में न्यायालय फैसला करेगा। नूपुर शर्मा ने उनके समुदाय (मुस्लिम) के ही एक किताब में लिखी हुई बात को बोला था और उस पर किसी को आपत्ति है तो वह कोर्ट जाए।

वहीं नूपुर शर्मा के बयान के विरोध में बीते शुक्रवार को हुई हिंसा के विरोध में अब बजरंग दल देशव्यापी प्रदर्शन करेगा। बृहस्पतिवार को बजरंग दल प्रदर्शन करेगा और राष्ट्रपति को इसके संबंध में ज्ञापन भी सौंपेगा। विश्व हिंदू परिषद ने जानकारी दी है कि बजरंग दल के युवा कार्यकर्ता बृहस्पतिवार को सभी जिला मुख्यालयों पर धरना देंगे।

वीएचपी ने बयान जारी कर कहा, “पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ टिप्पणी को लेकर हिंसा की हालिया घटनाओं के खिलाफ बजरंग दल गुरुवार को देशव्यापी विरोध प्रदर्शन करेगा। धरना इस्लामिक जिहादी कट्टरपंथियों द्वारा बढ़ती चरमपंथी घटनाओं के खिलाफ है। राष्ट्रपति कोविंद को भी ज्ञापन सौंपेंगे।”

नूपुर शर्मा के खिलाफ महाराष्ट्र में मुकदमे दर्ज किए गए हैं और पूछताछ के लिए भी उनको बुलाया गया है। वहीं मुस्लिम संगठन नूपुर शर्मा और नवीन जिंदल की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं।

Leave a Comment